अंगनबाड़ी से मिलने वाला बच्चों और मां का आहार खतरे से खाली नहीं है।


khshetr01 अगस्त 2022 को जब छोटे बच्चे की मां को पाकेट बंद नूट्रिशन मिक्स का पाकेट मिला तो उसमे कंपनी द्वारा बनाई जाने वाली तारीख और महिना नहीं था जबकि चेतावनी मे लिखा था कि बनाए जाने वाली तारीख से पहले इस्तेमाल करे। जब Manufacture date ही नहीं है तो किस शर्तों के साथ इस्तेमाल किया जाए ।

उस पाकेट पर या तो बनाने वाली तारीख को मिटा दिया होगा या फिर कंपनी ने डाली ही नहीं है । इस तरह बच्चों या उनकी मां की जिंदगी के साथ खिलवाड़ नहीं तो और किया है? कॉम्पनी द्वारा वेधानिक चेतावनी इतनी छोटे व धुंदले अक्षरों से लिखी होती है कि पढ़ने वाला पढ़ ही न सके और ऐसे बारदाने का इस्तेमाल किया होता है जिस पर उनकी Manufacture वाली तारीख की मोहर आसानी से मिट जाए, उस जगह पर दोबारा मोहर लग जाए । इस तरह कुछ दवाइयाँ के पाकेट मे भी होता है। मेने पाया है कि दूर दराज के इलाकों मे ऐसा किया जाता है।

वेसे तो खाने वाली दवाइयों से लेकर हर खाद्य पदार्थ के अंदर मिलावट होती है लेकिन अब तो गला-सड़ा खाद्य सामग्री खिलाने मे भी कोई डर नहीं होता है। सरकारी उचित मूल्य की दुकानों मे सड़ा-गला राशन मिलता है। उन लोगों को आगे आने की जरूरत है जो इन समस्या को झेल रहे है।

20 views0 comments

Recent Posts

See All

हम बहु जातियों के देश मे रहते है इसलिए मिलकर रहने मे ही समझदारी होगी यह जरूर है कि जब जातिया बनाई होगी उस वख्त ऐसी जरूरत होगी लेकिन समय एक जेसा नहीं रहता है। जब हमारा सविधान बना उस समय वेसी ही परिस्थि